Hast Rekha Vigyan Vishwakosh

Front Cover
Subodh Pocket Books - 300 pages
4 Reviews
 

What people are saying - Write a review

User Review - Flag as inappropriate

this is goog

User Review - Flag as inappropriate

Kripya 62 no. Page ke baad nahi padh sak rahe hamari kuch sahayata kijiye aur aangle bhasha me cross ke bare me hamara margdarshan kijiye a bhi tak ki jankarai kafi Rochak hai

Common terms and phrases

अंगुलियों अधिक अनामिका अनेक अन्य अपनी अपने आदि इन इस इसलिए उत्तम उसके उसे ऊपर एक एवं ऐसी ऐसे और कर करता है करती करते हैं करना करने का किन्तु किया किसी की तरह के कारण के बीच के लिए के साथ को कोई क्षेत्र की ओर क्षेत्र में क्षेत्रों चन्द्र चाहिए चिह्न जा जातक के जाता है जाती जाये जो ज्योतिष ठी तक तथा तर्जनी तो जातक था नक्षत्र नहीं नीचे ने पर परिचायक पेम प्रकार बहुत बीमारी बुध भाग्य रेखा भी मंगल मस्तिष्क यदि यह या रहता है रा रूप रेखा के रेखा में रेखाएं लक्षण वह वाली वाले विज्ञान विवाह वृहस्पति वे व्यक्ति शक्ति शनि शाखा शुक क्षेत्र सफलता समय से स्थिति स्वभाव हस्तरेखा विज्ञान हाथों में ही हुआ हुई हुए हृदय रेखा हे है और है कि हो हों होता है होती होते हैं होने

Bibliographic information