Sri Ramayana Mahakavya, Volume 4

Front Cover
Svāghyāya Maṇḍala, 1950

From inside the book

Other editions - View all

Common terms and phrases

१० ११ १२ १३ १४ १५ १६ १७ १८ १९ २० २१ २२ २३ २४ अनेक अपने आप आये आश्रम इस प्रकार उत्पन्न उन उस उसे एक एवं ऐसा ऐसे और कर करके करता करते करना करनेवाले कहा कि किन्तु किया किये की के को गया गये जैसे जो तं ततः तथा तब तु तुम तू ते तो त्वं था थी थे दिया देखकर धारण नहीं नहीं है पर पास प्राप्त फिर बडे बहुत बोले भी मम मया मुझे मे में मेरी मेरे मैं यथा यदि यह यहाँ युक्त युद्ध ये राक्षस राक्षसोंके राजा राम रामं रामका रामके रामको रामने रामसे रावण लक्ष्मण लगा लगे लिया लिये वचन वनमें वह वा वे श्रेष्ठ सब समय समान सर्ग सर्गः सह सा साथ सीता सीताको से हि ही हुआ हुई हुए हूं हे हे राम हे लक्ष्मण है है और हैं हो होकर होता है

Bibliographic information