Ved Aaur Purano Me Varnit Mahashaktiya

Front Cover
Hindūljī Buksa, 2009 - Hindu shrines - 182 pages
On the cult and 51 shrines and temples of Śakti, Hindu deity; includes rituals associated for the worship of Śakti in various forms.

From inside the book

What people are saying - Write a review

We haven't found any reviews in the usual places.

Common terms and phrases

अतः अनेक अपने आदि इन इस इसके इसे उनका उनकी उनके उन्हें उल्लेख एक एवं कर करती करते करने कहते हैं कहा गया है का निपात कार काली कि.मी किन्तु किया की उपासना कुछ के अनुसार के रूप में के लिए के साथ को क्योंकि खण्ड गए जहाँ जाता है जाती जिसमें जो तंत्र तक तत्त्व तथा भैरव तब तीन तो थी दक्षिण दर्शन दुर्गा देवी देवी का दो दोनों द्वारा नदी नमः नहीं है नाम ने पर पर स्थित पर्वत पीठ पीठों पुराण पूर्व प्रकृति ब्रह्म भाग भी मंत्र मंदिर के माँ मात्र माना मान्यता मार्ग मूर्ति में शक्ति में है यह या यात्रा लगभग वर्णन वह वहाँ वाम विष्णु शक्ति के शक्तिपीठ शक्तिपीठों शिव श्री सती के सभी समस्त सिद्धि सृष्टि से स्टेशन स्थल स्थान स्थित है स्वरूप ही हुआ था हुई हुए है और है कि है तथा हो होता है होती होते होने

Bibliographic information