Aushadhiya Paudhon Ki Kheti

Front Cover
Rajkamal Prakashan - 80 pages
 

What people are saying - Write a review

User Review - Flag as inappropriate

Good Book

Contents

Section 1
3
Section 2
5
Section 3
34
Section 4
46
Section 5
62
Section 6
71
Section 7
79

Common terms and phrases

अथवा अधिक अरंडी इस इसका इसकी इसके इसे उई उत्पादन उपयुक्त उपयोग एक एवं और औषधीय कई कम कर करके करते करने से का की के रूप में के लिए के साथ को क्रिया जाता है खाद खेत में खेती गया है गुजरात गोबर चाहिए चीज छोती जड़ जा सकता है जाए जाते हैं जाना जो तक तने तय ताश तुलसी तुलसी के तेल तैयार तो दिन दिया देना चाहिए देने नहीं पकी पति पति एकड़ पतियों पते पत्रों पपीता पपीते पर पानी पाया पीनों पीये पौधे प्रकार प्रतिशत प्राप्त फल फसल फसल से बन बनाने बने बर्ष बल बाद बीज भारत भूति मावा माह में भी मोई यदि यर यल यह या रंग रस राजस्थान रूप से रोग रोपण रोम लगभग लगाने वर्ष विभिन्न सकती समय सिचाई से ही हेतु है कि है तथा हो जाता हो जाती है होता है होती होते हैं होने

Bibliographic information